भला हम भगवान को खोजने कहाँ जा सकते हैं अगर उसे अपने ह्रदय और हर एक जीवित प्राणी में नहीं देख सकते।

Reviewed by Hunt duniya on September 01, 2018 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.